Full Form Hindi Tricks Jankari Jio 4G LTE

LTE Full Form: LTE और VoLTE क्या है ये काम कैसे करता है?

What is LTE and VoLTE in Hindi: मार्केट में जिओ के आने के बाद बहुत सारी चीजें बदल चुकी है और इन्ही में से एक हैं आपके फ़ोन का 4G में अपग्रेड हो जाना. इसके साथ ही फ़ोन अब LTE और VoLTE सपोर्टेड भी आने लगे. ऐसे में आप सभी को ये जानना जरुरी है की वास्तव में LTE और VoLTE क्या होता है और ये कैसे काम करता है.

पहले 2G फिर अभी 3G से 4G Internet में प्रवेश करने के बाद समय बहुत कुछ बदल चूका है और इसमें जिओ के महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है, अनलिमिटेड इंटरनेट और कालिंग के साथ LTE और VoLTE का महत्त्व भी बढ़ा है.

पहले यदि लोग फ़ोन खरीदते थे तो वो सिर्फ ये देखते थे की फ़ोन 3G या 4G सपोर्ट करता है या नहीं लेकिन अब लोग ये भी देखते हैं कि उनका फ़ोन LTE और VoLTE सपोर्ट करता है कि नहीं. अब आपके मन में ये जरूर यह प्रश्न उठा होगा की आखिर ये LTE और VoLTE क्या है और काम कैसे करता है.

आज बाजार में आ रहे लगभग सभी स्मार्टफोन्स 4G VoLTE या 4G LTE सपॉर्ट करते हैं। लेकिन ये काम कैसे करते हैं? इनमें अंतर क्या है? ऐसे प्रश्न हर किसी के मन में उठते होंगे। आज के इस आर्टिकल में इन दोनों की तकनीक की विस्तार से चर्चा करेंगे.

LTE Full Form

इससे पहले कि हम सभी सीखें कि LTE और VoLTE क्या होता है हम ये जान लेते हैं कि LTE का फुल फॉर्म क्या होता है.

तो LTE का फुल फॉर्म होता है …………

‘लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन’ अर्थात Long Term Evolution

LTE क्या है (What is LTE in Hindi)

LTE का फुल फॉर्म ‘लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन’ होता है बताते चलें कि भारत में LTE की शुरुँत्त सबसे पहले एयरटेल ने 2012 में की थी. सामान्य बोलचाल की भाषा में LTE को 4G भी कहा जाता है. क्योंकि यह आपके स्मार्टफोन में 4G इंटरनेट चलाने में मदद करता है, यह आपको फ़ास्ट इन्टरनेट चलाने में मदद करता है लेकिन इसकी एक ही कमी है कि जब आप इन्टरनेट चला रहे होते हैं और आपको कहीं से कॉल आ जाता है तो आपका इन्टरनेट कनेक्शन बंद हो जाता है और इसी कमी को दूर करने के लिए VoLTE तकनीक का विकाश किया गया जिसे इंडिया में सबसे पहले जिओ ने लांच किया.

LTE, 3G जनरेशन पार्टनरशिप प्रोजेक्ट (3GPP) द्वारा विकसित एक 4G वायरलेस कम्युनिकेशन स्टैंडर्ड है जिसे मोबाइल उपकरणों जैसे स्मार्टफोन , टैबलेट , नेटबुक , नोटबुकऔर वायरलेस हॉटस्पॉट के लिए 10x तक की स्पीड प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है.

रिलायंस जियो भारत में VoLTE सर्विस देने वाली पहली टेलिकॉम कंपनी है

VoLTE क्या है (What is VoLTE in Hindi)

VoLTE का फुल फॉर्म ‘वॉयस ओवर लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन’ होता है जिसे हम इंग्लिश में लिखें तो
Voice over Long-Term Evolution (VoLTE) कह सकते हैं.

यह सिर्फ 4G नेटवर्क को सपॉर्ट करता है LTE की ही तरह ही इसमें भी आप हाई स्पीड इंटरनेट का आनंद ले सकते हैं इस नेटवर्क की खूबी ये है कि यदि आप अपना स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं तो कॉल आने की स्थिति में भी आपके फोन में इंटरनेट की स्पीड में कोई कमी नहीं आती है और नहीं LTE की तरह आपका इन्टरनेट कनेक्शन डिसकनेक्ट हो जाता है. रिलायंस जियो के बाद से अब भारती एयरटेल और वोडाफोन इंडिया भी देश के ज्यादातर टेलिकॉम सर्किल में VoLTE सेवा शुरू कर चुकी है यानि कि अब आपके पास बहुत सारे आप्शन अपने मोबाइल में
Voice over Long-Term Evolution (VoLTE) के उपयोग करने का.

पिछले सेलुलर नेटवर्क, जैसे 2 जी और 3 जी को मुख्य रूप से वॉयस कॉल करने के लिए डिज़ाइन किया गया था. फिर इन्टरनेट का सपोर्ट करने के लिए धीरे धीरे विकास किया गया और आज हम यहाँ तक आ चुके हैं.

अब आपने गौर किया होगा कि जब भी आप Voice over Long-Term Evolution (VoLTE) का उपयोग अपने फ़ोन में कर रहे होते हैं तो आपकी इन्टरनेट स्पीड तो अच्छी होती ही है इसके साथ ही आपके वौइस् कालिंग की क्वालिटी भी काफी बेहतर होती है.

क्या आपके Smartphone में VoLTE है

अब किस तरह चेक कर सकते हें कि आपके स्मर्त्फोने में VoLTE है या नहीं है ? इसके लिए आप सिंपल ट्रिक ये फॉलो कर सकते हैं कि जब आप अपना फ़ोन चालू करेंगे तो आपके नेटवर्क के बगल में VoLTE का सिंबल आएगा. जिसका मतलब है कि आपका फ़ोन VoLTE सपोर्ट करता है अन्यथा इसके अलावा आपके फ़ोन में यदि G, E or 2G, 3G, 4G आदि सिर्फ प्रकट होते हैं तो इसका मतलब है कि आपका फ़ोन ये सपोर्ट नहीं करता है.

आप अपने नेटवर्क सेटिंग में भी जाकर चेक कर सकते हैं कि आपके फ़ोन में VoLTE इनेबल करने का आप्शन है या नहीं है, यदि है तो आप इसे ऑन करके इसका फायदा उठा सकते हैं.

जिओ जैसी कंपनी के पास सिर्फ 4G नेटवर्क है ऐसे में यदि आपका फ़ोन ये नेटवर्क नहीं सपोर्ट करता है तो उसमे जिओ का सिम आप उपयोग नहीं कर पाएंगे. कभी कभी ऐसा होता है कि आपके फ़ोन में सिर्फ LTE सपोर्ट करता है और VoLTE नहीं तो ऐसे में जिओ यूजर Jio4GVoice ऐप्प का उपयोग कर सकते हैं.

VoLTE कब दिखाना शुरू करेगा?

चूंकि VoLTE के लिए न केवल फोन बल्कि आपके सेलुलर नेटवर्क के सपोर्ट की आवश्यकता होती है, इसलिए आप चेक कर सकते हैं कि आपका फ़ोन के अलावा आपका सिम VoLTE सपोर्ट करता है या नहीं.

LTE और VoLTE में क्या अंतर है ??

आइये अब दोनों के बिच के अंतर को इस टेबल के जरिये समझते हैं ताकि आपके लिए ये और आसान हो सके LTE और VoLTE में अंतर समझना.

LTEVoLTE
LTE ka Full Form है  Long Term EvolutionVoLTE ka Full Form है  Voice over Long Term Evolution
Iska Vikas sir internet upyog karne ke liye kiya gaya tha jaisa ki iske naam se pata lagta hai.Iska LTE se vistar sirf is liye kiya gya kyonki LTE voice ko support nahi karta tha.
ये voice transmission को support नहीं करता.ये voice transmission और Data transmisssion दोनों को support करता है .
Internet connection hone par hi aap behtar call kar sakte hain.Internet connection ke na hone par bhi aapke call ki quality best hogi.

अब आपने LTE और VoLTE का अंतर काफी विस्तार से समझ लिया है और हमें आशा है कि जिस तरह तकनीक का विकास जारी है आप भी एक ऐसा फ़ोन उपयोग कर रहे होंगे जो LTE नहीं VoLTE सपोर्ट करता होगा.

VoLTE नेटवर्क के क्या फायदे हैं

कोई भी व्यक्ति आगे की तरफ नहीं बढेगा जब तक कि उसे कुछ फायदा न नजर आये, इसमे आप भी ये जानना चाहते होंगे कि VoLTE नेटवर्क के क्या फायदे हैं ?

  • कॉल क्वालिटी सबसे उच्चतम स्तर पर – आपको इस पर सबसे बेस्ट कालिंग क्वालिटी मिलेगी.
  • बेहतर कवरेज और कनेक्टिविटी – आप जब इसके द्वारा कॉल लगायेंगे तो लगने में कोई परेशानी नहीं होगी और आपका कॉल डायरेक्ट कनेक्ट होगा. इसकी फ्रीक्वेंसी बहुत हाई होती है जो आपके कॉल को जल्दी से कनेक्ट करने में मदद करता है.
  • बेहतर बैटरी लाइफ – इस नेटवर्क पर आपको सबसे ज्यादा बैटरी लाइफ मिलती है जिसका मुख्य कारन है कि जब आप कॉल करते हैं तो आपका नेटवर्क स्विच नहीं होता है अर्थात एक नेटवर्क से दुसरे नेटवर्क में कॉल करने के लिए नहीं जाना पड़ता है. सिर्फ VoLTE के द्वारा ही आप कॉल भी कर सकते हैं और इन्टरनेट भी चला सकते हैं.
  • विडियो कालिंग सपोर्ट : इसकी सबसे बड़ी खासियत यही है कि ये डायरेक्ट विडियो कालिंग सपोर्ट करता है. और आपको विडियो कॉल करने के लिए किसी अन्य एप्प जैसे WhatsApp या फेसबुक इत्यादि का उपयोग नहीं करना पड़ता है.

तो इस तरह आज के इस पोस्ट में आपने सिखा……..

LTE Kya Hia, LTE Full Form, LTE Full Form in Hindi, LTE aur VoLTE Kya hata hai.

About the author

Prakash Kumar Nirala

Prakash Kumar Nirala is a Techy who loves to spread his technical knowledge with all.

Leave a Reply to harish parmar X