Jankari

Lockdown की पुरी जानकारी Hindi में, जाने क्या होता है लॉकडाउन

Lockdown KYA HAI
Written by Writer Team

हेल्लो दोस्तों, जैसा की आप सभी जान रहे हैं की अभी के डेट में पुरे भारत भर में नहीं बल्कि पुरे देश भर में Lockdown का समस्या चल रहा है, तो आज हम इस लेख के माध्यम से बताएगें की आखिर यह है क्या और क्यों चल रहा है.

जानते हैं की Lockdown क्या है

आप सभी को मालूम होगा की अभी देश में Coronavirus के बढ़ते प्रकोप के कारन कई देश और राज्य में Lockdown की नौबत आ गया है. जिसके चलते सभी राज्य को 14 अप्रैल तक बंद रखने के लिए किया गया है, ताकि सब लोग अपने घर में सुरक्षित रहे.

आपको बता दें की अबतक Lockdown के चलते कई शहरो समेत देश के लगभग 75 जिलो में इस समय लॉकडाउन चल रहा है. अब तक आपने हड़ताल के बारे में सुना होगा, कर्फ्यू के बारे में सुना होगा लेकिन लॉकडाउन के बारे में कभी नहीं सुना होगा, कि हमारे जीवन पर क्या प्रभाब पड़ेगा, क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा. तो आप इस लेख में दिए गये इसके बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

Lockdown क्या है हिंदी में

अब आप सभी को बता दें की कोरोना वायरस के कारन पुरे भारत में सबसे पहले महाराष्ट्र और राजस्थान में लॉकडाउन किया गया है. जबकि उसके बाद उत्तराखंड, पंजाब और बिहार में किया गया, इसका कारन यह है ये जैसे जैसे बढ़ते गया तो फिर भारत सरकार के द्वारा पुरे देश भर में Lockdown का एलान कर दिया गया.

Lockdown शब्द का इस्तेमाल आपको बता दें की पश्चिमी देश में कई बार आपात स्थिति में ऐसा किया गया है. लेकिन भारत में लोगों को अपने घर के अन्दर रहने के लिए धारा 144 जैसे कानून का सहारा लिया गया है. पर Lockdown का इस्तेमाल पहली बार भारत में ऐसा देखने को मिला है, इसका मतलब यह है की जरुरी सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद रह सकता है.

आपको इसके दौरान सिर्फ जरुरी या आपात स्थिति होने पर ही आपको घर से बाहर निकलने के लिए अनुमति दिया जा रहा है, और इस दौरान सभी बाजार जैसे व्यापारिक प्रतिष्ठान, दुकानें, पब्लिक ट्रांसपोर्ट ये सब जितने भी हैं सब के सब बंद रहेगें, हालाँकि जरुरी सेवाए खुला हुआ रहेगा.

क्या होता है लॉकडाउन?

लॉकडाउन का अर्थ है तालाबंदी. लॉकडाउन एक आपातकालीन व्यवस्था है जो किसी आपदा या महामारी के वक्त लागू की जाती है. जिस इलाके में लॉकडाउन किया गया है उस क्षेत्र के लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होती है. उन्हें सिर्फ दवा और खाने-पीने जैसी जरूरी चीजों की खरीदारी के लिए ही बाहर आने की इजाजत मिलती है, इस दौरान वे बैंक से पैसे निकालने भी जा सकते हैं. जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का अर्थ है कि आप अनावश्यक कार्य के लिए सड़कों पर ना निकलें. अगर लॉकडाउन की वजह से किसी तरह की परेशानी हो तो आप संबंधित पुलिस थाने, जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक अथवा अन्य उच्च अधिकारी को फोन कर सकते हैं. लॉकडाउन जनता की सहूलियत और सुरक्षा के लिए किया जाता है. सभी प्राइवेट और कॉन्ट्रेक्ट वाले दफ्तर बं

Lockdown से डरने की जरुरत है

बिलकुल नहीं, बता दें की पुरे भारत में कोरोना वायरस से खतरे को देखते हुए इसका पुरी तरह से लॉकडाउन का ऐलान किया गया है तो इसमें हमें डरने की क्या जरुरत है. Lockdown में आपको सिर्फ अपने घर में रहना होगा हालाँकि आप अपने दैनिक यूज की चीजों राशन, दबा, पैसों, के लिए ही घर से बहार निकल सकते हैं.

लेकिन आप एक बात समझ लें की आपको ज्यादातर भीड़ से बचना होगा. इसके लिए ही भारत सरकार ने सभी ब्यक्ति को सुरक्षित रखने के लिए पहला कदम उठाया गया ताकि इसे जड़ से मिटाया जा सकें.

क्या इससे पहले भी कभी हुआ है Lockdown?

तो बता दें की अमेरिका ने 9/11 में हुए आतंकी हमले के बाद तिन दिन के लिए पहली बार Lockdown का एलान किया था.

इसके बाद 2013 में बॉस्टन और 2015 में पेरिस के बिच हुए हमले के बाद ब्रुसेल्स ने भी Lockdown किया था.

Lockdown क्यों किया जाता है.

अब रह जाती है की Lockdown क्यों किया जाता है.

तो यह किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी भी इलाके को बचाने के लिए किया जाता है. जैसे कोरोना संक्रमण को लेकर कई देशों में किया गया है जैसा आपको ऊपर में बताया गया.

कोरोनावायरस का संक्रमण एक इंसान में न हो इसके लिए जरुरी है की लोग अपने घर से बाहर कम निकले. क्योंकि बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जायेगा. इसके कारन भारत समेत कई देशो में अभी Lockdown चल रहा है.

कर्फ्यू और लॉकडाउन में अंतर:-

कर्फ्यू और लॉकडाउन दोनों को अलग-अलग स्थिति में लगाया जाता है, दोनों के बीच अंतर प्रशासन द्वारा जारी रखी गईं सेवाओं का होता है. अगर किसी इलाके में दंगे या हिंसा होती है तो उस स्थिति में प्रशासन को काबू पाने के लिए कर्फ्यू लगाया जाता है.

कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाएं जैसे बाजार और बैंकों को लॉक किया जाता है, जबकि कर्फ्यू में कुछ डीलाई भी दी जाती है. तभी ये सारी सेवाओं का लाभ घरों में बंद लोगों को मिलता है और वो बाहर निकल सकते हैं.

लेकिन Lockdown में जरूरी सेवाएं बंद नहीं की जाती हैं जैसा की आप सभी देख ही रहे हैं फिलहाल हमारे देश में है. देश के कई राज्यों और शहरों में लॉकडाउन किया गया है, लेकिन डेली जरूरी सामान के लिए कुछ दुकानें खुली हुई हैं जनता के लिए आवश्यक सेवाएं जारी हैं पर अधिकतर पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बंद कर दिया गया है.

About the author

Writer Team

Learn More About Technology with Hindi Tech Tricks. We have a team of writers who write informative posts for you all. Keep Reading and Sharing.

Leave a Comment